दुनिया के 10 छोटे बड़े देश जहाँ पर कब्ज़ा करना है मुश्किल। occupying these never possible.

दुनिया के 10 छोटे बड़े देश जहाँ पर कब्ज़ा करना लगभग असंभव है। (Occupying these 10 countries is never possible), 10 Small Big Countries of the World Where it is Difficult to take Possession.

दुनिया की यदि बात की जाय तो कुछ देश बहुत कमजोर हैं, जिन पर Kabja Karna बेहद आसान हो जाता है और कई ऐसे राष्ट्र हैं, जिन पर बड़े शक्तिशाली देशों द्वारा कब्ज़ा किया हुआ है, और वह किसी बड़े देश के गुलाम हैं जैसे तिब्बत आदि। लेकिन कुछ ऐसे भी देश हैं जिन पर Kabja Karna या करने के बारे में पहले सोचना भी भारी पढ़ सकता है, आज हम ऐसे ही देशो के बारे में जानेंगे, ये देश अपनी आर्मी और भौगोलिक स्थिति या अन्य वजहों से सुरक्षित हैं। नीचे हमने दुनिया के दस उन देश बारे में बताया है जिन पर Kabja Karna काफी मुश्किल है।

ईरान (Iran)

 Warld War -2 के बाद से कोई भी राष्ट्र ईरान पर हमला नहीं कर पाया है। ईरान की असली ताकत उसकी आर्मी है, जिसमे लगभग मात्र 5 लाख सैनिक है। लेकिन मात्र पांच लाख सैनिक होने के बावजूद इस देश में घुसना इसके पहाड़ी इलाको की वजह से काफी कठिन है। ईरान की सरकार के पास बहुत से भूमिगत आर्मी बेस हैं, जो ईरान के लगभग प्रत्येक शहर के ५०० मीटर नीचे बने हुए हैं। इस प्रकार यहां पर कब्ज़ा करना लगभग असंभव है।

इन्हें भी पढ़े – मनसा देवी मंदिर हरिद्वार।

ऑस्ट्रेलिया (Australia)

ऑस्ट्रेलिया दुनिया के सबसे खुबसूरत देशों में से है, जहाँ इसकी भौगोलिक स्थिति के कारण कब्ज़ा करना काफी करना बहुत मुश्किल है। ऑस्ट्रेलिया के पास कोई दूसरा शक्तिशाली देश नहीं है, जो इस पर हमला करने की स्थिति में हो । इसकी ताकत आर्मी नहीं बल्कि इस देश की भौगोलिक स्थिति है।

इन्हें भी पढ़े- मसूरी उत्तराखंड – पहाड़ों की रानी।

रूस (Russia)

अगर आप जानना चाहते हैं की रूस से जीतना कितना मुश्किल है तो आप हिटलर और नेपोलियन के इतिहास को पढ़ सकते हो, इसकी ताकत भी इस देश की भोगोलिक स्थिति है। क्योंकि यह पहाड़ो के बीच घिरा है। यह वर्तमान में दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा ताकतवर देश है। इस देश की आर्मी तो अपने देश को सुरक्षित रखती ही है बल्कि यह देश क्षेत्रफल में बड़े होने की वजह से भी ताकतवर है जिस पर कब्ज़ा करना बेहद ही मुश्किल है।

इन्हें भी पढ़े- उत्तराखंड के प्रमुख ग्लेशियर। ग्लेशियर किसे कहते है।

अमेरिका (United State of Amerika)

यहां का वर्तमान राष्ट्रपति जो बाइडेन है, जो दुनिया का सबसे ताकतवर देश हैं। इस देश की ताकत आर्मी है, और साथ ही साथ इस देश के हर नागरिक का दिमाग भी है। अमेरिका हथियारों का बड़ी मात्रा में उत्पादन करता है, और सबसे बड़ा बाजार है, इस देश के पास वर्तमान में 7 हजार न्युक्लिएर हथियार हैं। दुसरे विश्व युद्ध के बाद से अभी तक कब्ज़ा करना है के बारे में सोचना तो दूर बल्कि कोई भी देश अमेरिका की तरफ बुरी नजर से भी नहीं देख पाता है। क्योंकि दुसरे विश्व युद्ध में अमेरिका ने जापान के हिरोशिमा और नागासाकी शहर में परमाणु बम गिराकर पूरी दुनिया को अपनी ताकत दिखा दी थी।

इन्हें भी पढ़े- उत्तराखंड आपदा 2021,

भारत (India)

भारत भी उन देशों में है जिन पर कब्ज़ा करना मुश्किल है। इस देश की ताकत इस देश की आर्मी और भौगोलिक स्थिति है।  भारत के पडोसी देश कई बार भारत पर हमला कर चुके हैं, लेकिन कभी भी सफल नहीं हुए हैं। भारत उत्तर की ओर से हिमालय के विशाल पर्वत से घिरा है और दक्षिण में हिन्द महासागर, दक्षिण पश्चिम में अरब सागर व दक्षिण पूर्व में बंगाल की खाड़ी है। भौगोलिक स्थिति भी भारत को बाहरी आक्रमण से बचती है। आज भारत दुनिया के सबसे शक्तिशाली देश के रूप में उभर रहा है ऐसे में कोई भी देश को आज ऐसा दुस्साहस करना भारी पड़ सकता है।  भारत में वर्तमान में लगभग कुल 14 लाख सैनिक हैं।

इन्हें भी पढ़े उत्तर भारत का पर्वतीय राज्य – उत्तराखंड 

नॉर्थ कोरिया (North Korea)

उत्तरी कोरिया की दुश्मनी चीन को छोड़कर दुनिया के सबसे मजबूत अमेरिका जैसे देशों से है लेकिन फिर भी कोई देश इस पर हमला करने की हिम्मत नहीं करता है, क्यूंकि इनके परमाणु हथियार के साथ हाइड्रोजन बम भी बना रखा है। यही वजह है की कोई भी देश इस देश पर हमला करने की हिम्मत नहीं करता है। नॉर्थ कोरिया के पास लगभग 4500 टैंक और दस लाख सैनिक है, यही कारण है कि ज्यादातर देश इनसे डरते है। यहां का तानाशाह को किम जोंग उन नेताओं एक सनकी तानाशाह भी कहा जाता है, जो ये ठान लेते है उसे पूरा करते है ।

इन्हें भी पढ़े- धनोल्टी उत्तराखंड।

भूटान (Bhutan)

यह दुनिया के उन गिने चुने देशों में से एक है जिन पर कभी भी किसी देश ने कब्ज़ा नहीं किया है। इस देश की भी भौगोलिक परिस्तिथियाँ इस देश को कब्ज़ा होने से बचा लेंगी अगर कभी इस देश पर कब्ज़ा हुआ तो। क्योंकि हजारों कोस दूर इस देश पर कब्ज़ा करने के लिए टैंक इत्यादि हथियार ले जाने में समस्या होगी और साथ ही साथ इस देश की सुरक्षा का वादा इंडिया ने किया है, तो अगर कभी इस देश पर कब्ज़ा होता है, तो भारत हमेशा इस देश की मदद के लिए आगे आएगा। कुछ समय पूर्व ही डोकलाम विवाद भूटान से में था जहां भारतीय सेना ने चीनी सेना को पीछे जाने को मजबूर कर दिया।

इन्हें भी पढ़े- Chamoli District explain, Chamoli Aapda, in Hindi 2021

इजराइल (Israel)

मिडिल ईस्ट में इजराइल एक बहुत छोटा सा देश है और अपने आस पास के सभी देशों से इसकी दुश्मनी भी है। इस देश के पास अमेरिका का सबसे ज्यादा सपोर्ट है, जिस वजह से सभी देश इस पर हमला करने से डरते है। इस देश की औरतों को हर साल कम से कम 2 साल और आदमियों को तीन साल आर्मी ट्रेनिंग दी जाती है। जिस वजह से इस देश के हर नागरिक के पास दुश्मनों से लड़ने की ताकत है। और यहाँ कब्ज़ा करना लगभग असंभव है।

इन्हें भी पढ़े- गुच्छू पानी देहरादून।

कनाडा (Canada)

इसकी आर्मी में केवल 15000 सैनिक हैं लेकिन इन्हें अपनी सुरक्षा के लिए आर्मी की जरुरत नहीं पड़ती. इस देश का क्षेत्रफल ही इस देश पर कब्ज़ा होने से इस देश को बचा देगा और इस देश पर अमेरिका का साथ भी बना हुआ है।

इन्हें भी पढ़े- देहरादून के दार्शनिक स्थान।

स्विट्जरलैंड (Switzerland)

जठिल भौगोलिक सीमा के करण दुनिया के सबसे छोटे देशो में से एक स्विट्जरलैंड पर कब्ज़ा करना आसान नहीं है, स्विट्जरलैंड एक विकसित एवं खुशहाल देश है, जिसका मानव विकास सूचकांक में उच्च स्थान है, यहां सेना बहुत छोटी है। जिस प्रकार भारत में हिमालय चीन की सीमा बनाता है, उसी प्रकार स्विट्जरलैंड में आल्प्स पर्वत है जिस पर चढाई करके ऊँची बर्फीली पहाड़ियों से आक्रमण करना लगभग असंभव है।

हमसे जुड़े-  ऐसे ही अन्य ट्रेवल पोस्ट पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

1 thought on “दुनिया के 10 छोटे बड़े देश जहाँ पर कब्ज़ा करना है मुश्किल। occupying these never possible.”

Leave a Comment

error: Content is protected !!