10 Most Visit Places in Dehradun Uttarakhand, Uttarakhand Tourism in Hindi

Dehradun- यह उत्तर भारत के पर्वतीय राज्य Uttarakhand की Capital है, यह समुद्र तल से 652 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है, जो देश की राजधानी New Delhi से 240 किमी की दुरी पर स्थित है, पहाड़ो की रानी के नाम से Famous (मशहूर) Mussoorie Dehradun से मात्र 40 किमी की दुरी पर स्थित है, Dehradun (India) से रात को मसूरी की Amazing light (अद्भुत रौशनी) का नजारा देखा जा सकता है।

Dehradun 10 Most Places to Visit in Hindi (देहरादून के १० प्रमुख पर्यटन स्थल)। देहरादून किस राज्य में स्थित है। देहरादून क्यों प्रसिद्ध है। गर्मियों में देहरादून में घूमने की जगहें।

Uttarakhand 9 नवंबर सन 2000 को Uttar Pradesh राज्य से अलग हुआ था, तब Dehradun को राज्य की Interim capital (अंतरिम राजधानी) बनाया गया था, लेकिन वर्तमान में देहरादून को Winter capital (शीतकालीन) एवं गैरसैण को Summer capital (ग्रीष्मकालीन राजधानी) बनाया गया है। Dehradun एक बेहतरीन पर्यटन स्थल है। Dehradun जिले में प्रसिद् पर्वतीय पर्यटन स्थल जैसे मसूरी, धनोल्टी, Chakrata आदि है। इस ब्लॉग में मैं आपको देहरादून के आस-पास बारे में सभी पर्यटन स्थलों के बारे में बताऊंगा।

इन्हें भी पढ़े मसूरी उत्तराखंड – पहाड़ों की रानी। 10 Best Place to Visit in Mussoorie – 2021

देहरादून में कहाँ-कहाँ घूमें (Where to visit in Dehradun in Hindi)

NAME OF PLACES DISTANCE FROM CLOCK TOWER
गुच्छु पानी 8 किमी
बुद्धा टेम्पल 10 किमी
डिअर पार्क 10 किमी
फारेस्ट रिसर्च इंस्टिट्यूट 6  किमी
आसान बैराज 45 किमी
डाकपत्थर बैराज ४० किमी
टपकेश्वर मंदिर 6 किमी
माल देवता 10 किमी
राजाजी नेशनल पार्क 25 किमी
सहस्त्रधारा 12 किमी

गुच्छू पानी देहरादून (Gucchu Pani Dehradun, in Hindi)

Dehradun

गुच्छू पानी या रॉबर्स गुफा- Dehradun  का एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल है। यह प्रकृति के बीच भूमिगत जल की एक धारा (छोटी नदी) के साथ, गुफाओं से घिरा हुआ सुन्दर पर्यटन स्थल है। यह गुफा रहस्यमय होने के साथ साथ डरावनी भी है। कहा जाता है कि यहां अंग्रेजी शासन काल में लुटेरे यहां आकर छुप जाते थे, यहां की रहस्मयी चट्टानों में अंग्रेज अधिकारी लुटरो को ढूँढ नहीं पाते थे, इसीलिए इसे रोवर्स केव के नाम से भी जाना जाता है। यहां आने पर आपको शांति और एकांत प्रदान करने के लिए एकदम सही है।यहां Dehradun  के स्थानीय लोग व देहरादून के बाहर से आये पर्यटक अक्सर पिकनिक मनाने आते है।

बुद्धा टेम्पल (Budda Temple Dehradun in Hindi) 

Dehradun

यह मंदिर असाधारण बौद्ध संरचना और तिब्बती धर्म के पवित्र स्कूल के लिए प्रसिद्ध है एवं साथ ही Dehradun  शहर में सबसे अधिक देखा जाने वाला स्थान भी है। बुद्दा टेम्पल क्लेमेंट टाउन में स्थित है, यह अंतर्राष्ट्रीय पर्यटकों और बुधवादी अनुयायियों के लिए आकर्षण का केंद्र है।

मालसी डिअर पार्क (Malsi Dear Park Dehradun in Hindi)

dehradun

मालसी डिअर पार्क- Dehradun में राजाजी नेशनल पार्क के बाद वन्यजीव प्रेमियों के लिए एक प्रमुख आकर्षण का केंद्र है। Malsi Dear Park का अब नाम बदलकर देहरादून चिड़ियाघर (Dehradun Zoo) कर दिया गया है। यहां पर  हिरन के अलावा खरगोश मोर बाघ नीलगाय आदि भी देख सकते है। यह घंटाघर से 10 किमी की दूरी पर मसूरी रोड पर स्थित, यह मिनी जूलॉजिकल पार्क या गार्डन अब देहरादून में एक प्रसिद्ध पारिवारिक सैर / पिकनिक स्थल के रूप में विकसित किया गया है।

फारेस्ट रिसर्च इंस्टिट्यूट (FRI Dehradun in Hindi) 

DEHRADUN

भारतीय वन अनुसंधान संस्थान, जिसे लोकप्रिय रूप से एफआरआई (FRI) देहरादून कहा जाता है, यह भारतीय वानिकी अनुसंधान और शिक्षा परिषद (ICFRE) का एक संस्थान है, और भारत में वानिकी अनुसंधान के क्षेत्र में एक प्रमुख संस्थान है। Dehradun स्थित यह सस्थान अपनी तरह के सबसे पुराने संस्थानों में से एक है। इसे विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC)द्वारा 1991 में डीम्ड विश्वविद्यालय घोषित किया गया था।पर्यटकों के लिए इसके 6 संग्रहालयों में वानिकी से संबंधित वस्तुओं का विशाल संग्रह है। यह देहरादून घंटाघर से 6 किमी की दुरी पर है। FRI सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक पर्यटकों के लिए खुला रहता है।

आसान बैराज (Asan Bairaj Dehradun in Hindi)

DEHRADUN

आसन बैराज झील देहरादून  से लगभग 45 किमी दूर देहरादून-चंडीगढ़ हाईवे (NH 72A) पर हिमांचल-उत्तराखंड सीमा पर विकासनगर के पास स्थित है, जिसका निर्माण पूर्वी यमुना नहर (शक्ति नहर) और आसन नदी के संगम से होता है। इस झील में प्रतिवर्ष सैकड़ो प्रजातियों के विदेशी जलपक्षी बड़ी संख्या में आते है, जिसमे कहीं दुर्लभ प्रजाति के होते है।2020 से इसे उत्तराखंड की पहली रामसर साइट घोषित किया गया है। यहां Dehradun से टेक्सी व बस के द्वारा आसानी से पहुंचा जा है।

 डाकपत्थर बैराज (Dakpatthar Bairaj in Hindi)

dehradun

डाकपत्थर बैराज देहरादून से 40 किमी दूर डाकपत्थर कस्बे के पास यमुना नदी पर बना एक ठोस बैराज है।यह पहाड़ो के बीच एक कृत्रिम झील का निर्माण करती है, जो पर्यटकों को काफी आकर्षित करता है, यह बैराज ढकरानी और धालीपुर पावर प्लांट में पनबिजली उत्पादन के लिए पूर्वी यमुना नहर में पानी को मोड़ने का कार्य करता है। बांध की आधारशिला 23 मई 1949 को भारत के प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने रखी थी। फंडिंग के कारण इस परियोजना में देरी हुई और 1965 में दोनों पावर स्टेशनों को चालू कर दिया गया। यहां आने के लिए देहरादून ISBT से सुबह से शाम तक बस उपलब्ध रहती है।

टपकेश्वर मंदिर (Tapkeshwar Temple in Hindi)

DEHRADUN

टपकेश्वर देहरादून के पास एक छोटी नदी (आसन नदी) के तट पर भगवान शिव का एक प्रसिद्ध पवित्र मंदिर है। गुफा में चट्टानों के बीच स्थित यह शिवलिंग सबसे पुराने शिवलिंग में से एक है, टपकेश्वर महादेव मंदिर देहरादून घंटाघर से 6 किमी की दूरी पर स्थित है। यहां शिवलिंग चट्टान से पानी की बूंदे लगातार टपकती रहती है, इसलिए इसे ‘टपकेश्वर’ नाम दिया गया।

माल देवता (Mal Devata Dehradun in Hindi)

CHAKRATA

मलदेवता  देहरादून के रायपुर क्षेत्र में स्थित है यह चारों तरफ से दून घाटियों से घिरा एक बड़ा ही मनमोहक स्थान है। यहां पहाड़ियों से छोटे छोटे झरने गिरते है जो यहां आने वाले पर्यटकों को बड़ा आकर्षित करते है, यही कारण है कि मालदेवता पिछले वर्षो से देहरादून का मुख्य पर्यटन स्थल है, मालदेवता कहीं एक्टिविटी के लिए भी जाना जाता है, जैसे कि तैराकी, दर्शनीय स्थल, बाइकिंग, साइकिल चलाना, और बर्ड-वॉचिंग, फोटोग्राफी और कैम्पिंग आदि। रात को यहाँ कैंपिंग करके अलाव जलाकर डांस करने का मजा भी ले सकते है इस दौरान पक्षियों के मीठे चहकने और सूरज की रोशनी को जगाने के लिए उठें।

राजाजी नेशनल पार्क (Rajaji National Park in Hindi)

DEHRADUN

राजाजी टाइगर रिज़र्व एक प्रसिद्ध राष्ट्रीय उद्यान और बाघ अभयारण्य है। यह मुख्यतः हाथी निवास के लिए प्रसिद्ध है। यहां लगभग 500 हाथी, 250 से अधिक तेंदुए और 37 बाघ हैं। बाघों की संख्या तेजी से कम हो रही है, इसे अब टाइगर रिज़र्व घोषित कर दिया है, और जिम कार्बेट के बाद उत्तराखंड का दूसरा टाइगर रिज़र्व बन गया।

राजाजी टाइगर रिजर्व (पहले राजाजी नेशनल पार्क) हिमालय की शिवालिक श्रेणी में स्थित है, और यह 820 किलोमीटर में फैला हुआ है। यह उत्तराखंड के तीन जिलों हरिद्वार, देहरादून और पौड़ी गढ़वाल में स्थित हैं।

इस पार्क का निर्माण 1983 में तीन अभयारण्यों – राजाजी अभयारण्य और राष्ट्रीय (एस्टा। 1948) मोतीचूर अभयारण्य (एस्टा। 1964) और चीला अभयारण्य (एस्टा। 1977) को मिलाकर किया गया है। और 20 अप्रैल 2015 को इसका नाम बदलकर राजाजी टाइगर रिजर्व कर दिया गया है।

इन्हें भी पढ़े मनसा देवी मंदिर हरिद्वार जहां हर वर्ष लाखों श्रद्धालु बृक्ष पर बांधते है मन्नत के लिए धागा।

सहस्त्रधारा (Sahastradhara Dehradun in Hindi)

DEHRADUN

सहस्त्रधारा, देहरादून का एक प्रसिद्ध पर्यटन स्थल है। जिसका शाब्दिक अर्थ है ‘हजार गुना वसंत’। यह बलदी नदी पर स्थित है, सहस्त्रधारा देहरादून घंटाघर  से ११ किमी की दूरी पर स्थित है। यहाँ पर्यटक झरने और गुफाओं की सुंदरता देखने के लिए बड़ी संख्या में सहस्त्रधारा जाते हैं।

GOOGLE MAP DEHRADUN

इन्हें भी पढ़े- Dhanaulti Uttarakhad, Snowfall in Dhanaulti in Hindi – 2021

error: Content is protected !!